Chapter 11: कोखजाया Balbharati solutions for Hindi - Yuvakbharati 12th Standard HSC Maharashtra State Board chapter 11 - कोखजाया [Latest edition]

Chapter 11: कोखजाया

Balbharati solutions for Hindi - Yuvakbharati 12th Standard HSC Maharashtra State Board chapter 11 - कोखजाया [Latest edition]


Chapter 11: कोखजाया Balbharati solutions for Hindi - Yuvakbharati 12th Standard HSC Maharashtra State Board chapter 11 - कोखजाया [Latest edition]


आकलन | Q 1.2 | Page 62

परिणाम लिखिए :

दिलीप उच्च शिक्षा के लिए लंदन चला गया - __________________

Solution: 

दिलीप उच्च शिक्षा के लिए लंदन चला गया - तो वहीं का होकर रह गया।


आकलन | Q 2.1 | Page 62

कृति पूर्ण कीजिए :

बोर्ड पर लिखा वृद्धाश्रम का नाम - ____________

Solution: 

बोर्ड पर लिखा वृद्धाश्रम का नाम - मातेश्वरी महिला वृद्धाश्रम


आकलन | Q 2.2 | Page 62

कृति पूर्ण कीजिए :

दिलीप और रघुनाथ का रिश्ता - ____________

Solution: 

दिलीप और रघुनाथ का रिश्ता - मौसेरे भाई


Chapter 11: कोखजाया Balbharati solutions for Hindi - Yuvakbharati 12th Standard HSC Maharashtra State Board chapter 11 - कोखजाया [Latest edition]


शब्द संपदा | Q 2 | Page 62

तद्‌धित शब्द लिखिए :

मानव - __________________

Solution: 

मानव - मानवता


शब्द संपदा | Q 3 | Page 62

तद्‌धित शब्द लिखिए :

माता - __________________

Solution: 

माता - मातृत्व


शब्द संपदा | Q 4 | Page 62

तद्‌धित शब्द लिखिए :

अपना - ______

Solution: 

अपना - अपनापन


अभिव्यक्त | Q 1 | Page 62

‘कोखजाया’ कहानी का उद्देश्य स्पष्ट कीजिए ।

Solution: 

वर्तमान भारतीय समाज में पारिवारिक व्यवस्था में बड़ी तेजी से बदलाव आ रहे हैं। निकटस्थ रिश्ते भी भावनाओं से दूर निरर्थक होते जा रहे हैं। परिवार छोटे हो गए हैं। केवल 'मैं और मेरे बच्चे' ही परिवार का हिस्सा रह गए। इस भावना के फलने-फूलने में स्त्रियों का योगदान भी कम नहीं रहा। 'मेरे पति की आमदनी पर सिर्फ मेरा और मेरे बच्चों का ही अधिकार है' वाली भावना जोर पकड़ने लगी। 'कोखजाया' कहानी का उद्देश्य आज समाज में फैलती जा रही रिश्तों की निरर्थकता को चित्रित करते हुए यह दर्शाना भी है कि प्रत्येक रिश्ते में प्यार होना जरूरी है। आज के समाज के केंद्र में धन, विलासिता सुख-सुविधाओं का स्थान सर्वोपरि हो गया है। आज की भौतिकवादी पीढ़ी में युवक विवाहोपरांत निजी स्वार्थ में इस तरह लिप्त हो जाते हैं कि वूद्ध माता-पिता की सेवा करना तो दूर, उनकी उपेक्षा करने लगते हैं। कहानी हमें यह भी संदेश देती है कि मनुष्य की इस प्रवृत्ति को बदलना होगा और रिश्तों को सार्थकता प्रदान करनी होगी वरना हमारी महान भारतीय संस्कृति रसातल में चली जाएगी।


अभिव्यक्त | Q 2 | Page 62

‘माँकेचरणों मेंस्वर्ग होता है’, इस कथन पर अपने विचार लिखिए ।

Solution: 

कहा जाता है कि माता के चरणों में स्वर्ग होता है। संसार का सुंदर व प्यारा शब्द है 'माँ'। इसमें कितनी मिठास भरी है। माँ का दर्जा देवताओं से भी बढ़कर है। हमने परमात्मा को नहीं देखा, भगवान को नहीं देखा। हमारी माँ हमारे लिए भगवान का ही रूप है। परमात्मा इस सृष्टि का पालन करता है, यह हम सभी जानते हैं। माता के चरणों का स्पर्श करने से बल, बुद्धि, विद्या और आयु प्राप्त होती है। कितने कष्टों को सहकर माँ बच्चे को जन्म देती है, उसके पश्चात अपने स्नेहरूपी अमृत से सींचकर उसे बड़ा करती है। माता- पिता के चरणों में स्वर्ग होता है, उनके आशीर्वाद से हमें हर क्षेत्र में सफलता मिलती है। हर कष्ट से मुक्ति मिलती है। उनका आदर और सम्मान करना हमारा सबसे पहला धर्म है। आज संसार में हमारा जो भी अस्तित्व है, जो भी पहचान है, उसका संपूर्ण श्रेय हमारे माता- पिता को ही जाता है। विवेकी पुत्र अपने माता-पिता की आज्ञा की अवहेलना करके एक कदम भी नहीं चलते। साथ ही लालच के कारण, धन के लिए माता-पिता की आज्ञा का उल्लंघन करने वालों की भी समाज में कमी नहीं है। आज आवश्यकता है मातृदेवो भव वाली वैदिक अवधारणा को एक बार पुनःप्रतिष्ठित करने की। तभी भारतीय समाज अपनी प्राचीन गरिमा को प्राप्त कर सकेगा।


पाठ पर आधारित लघूत्तरी प्रश् | Q 1 | Page 62

मौसी की स्वभावगत विशेषताएँ लिखिए ।

Chapter 11: कोखजाया Balbharati solutions for Hindi - Yuvakbharati 12th Standard HSC Maharashtra State Board chapter 11 - कोखजाया [Latest edition]

पाठ पर आधारित लघूत्तरी प्रश् | Q 2 | Page 62

‘मनुष्य केस्वार्थ केकारण रिश्तों मेंआई दूरी’, इसपर अपना मंतव्य लिखिए ।

Solution: 

मनुष्य एक सामाजिक प्राणी है। रिश्ते सामाजिक संबंधों का आधार हैं। संस्कारों की कमी, निहित स्वार्थ और भौतिकवादी सोच व्यक्ति को क्रूर बना रहे हैं। पैसों की होड़, मनुष्य के निजी स्वार्थ के कारण पारिवारिक रिश्तों में काफी गिरावट आई है। दो लोगों के बीच में पारस्परिक हितों का होना, बनना और बढ़ना रिश्तों को न केवल जन्म देता है, बल्कि एक मजबूत नींव भी प्रदान करता है। जैसे ही पारस्परिक हित निजी हित या स्वार्थ में बदल जाता है रिश्तों में ग्रहण लगना शुरू हो जाता है। पारस्परिक हित में अपने हित के साथ-साथ दूसरे के हित का भी समान रूप से ध्यान रखा जाता है।


साहित्य संबंधी सामान्य ज्ञान | Q 1 | Page 63

जानकारी लिखिए :

‘कोखजाया’ कहानी के हिंदी अनुवादक का नाम -

Solution: 

बैद्यनाथ झा।


साहित्य संबंधी सामान्य ज्ञान | Q 2 | Page 63

जानकारी लिखिए :

कहानी विधा की विशेषता -

Solution: 

कहानी विधा में जीवन में किसी एक अंश अथवा प्रसंग का वर्णन मिलता है। कहानियाँ अपने प्रारंभिक काल से ही सामाजिक बोध को व्यक्त करती है। समाज के बदलते मूल्यों, विचारों और दर्शन ने सदैव कहानियों को प्रभावित किया है। कहानियों के द्वारा हम किसी भी काल की सामाजिक, राजनीतिक दशा का परिचय आसानी से पा सकते हैं।


साहित्य संबंधी सामान्य ज्ञान | Q 1.01 | Page 63

निम्न उपसर्गों से प्रत्येक केतीन शब्द लिखिए :

अति - क्रमण : अतिक्रमण ______ ______

Solution: 

अति - क्रमण : अतिक्रमण अतिरिक्त अतिशय


साहित्य संबंधी सामान्य ज्ञान | Q 1.02 | Page 63

निम्न उपसर्गों से प्रत्येक केतीन शब्द लिखिए :

नि - कृष्ट : निकृष ______  ______

Solution: 

नि - कृष्ट : निकृष्ट  निवास  निषेध


Chapter 11: कोखजाया Balbharati solutions for Hindi - Yuvakbharati 12th Standard HSC Maharashtra State Board chapter 11 - कोखजाया [Latest edition]


साहित्य संबंधी सामान्य ज्ञान | Q 1.04 | Page 63

निम्न उपसर्गों से प्रत्येक केतीन शब्द लिखिए :

वि - संगति : विसंगति ______  ______

Solution: 

वि - संगति : विसंगति  विदेश  विवाद


साहित्य संबंधी सामान्य ज्ञान | Q 1.05 | Page 63

निम्न उपसर्गों से प्रत्येक केतीन शब्द लिखिए :

अभि - भावक: अभिभावक ______  ______

Solution: 

अभि - भावक : अभिभावक अभिनव  अभिमान


साहित्य संबंधी सामान्य ज्ञान | Q 1.06 | Page 63

निम्न उपसर्गों से प्रत्येक केतीन शब्द लिखिए :

प्र - स्थान : प्रस्थान ______  ______

Solution: 

प्र - स्थान : प्रस्थान  प्रगति  प्रबल


साहित्य संबंधी सामान्य ज्ञान | Q 1.07 | Page 63

निम्न उपसर्गों से प्रत्येक केतीन शब्द लिखिए :

अ - विवेक : अविवेक ______  ______

Solution: 

अ - विवेक : अविवेक  अधर्म  असत्य


साहित्य संबंधी सामान्य ज्ञान | Q 1.08 | Page 63

निम्न उपसर्गों से प्रत्येक केतीन शब्द लिखिए :

अध - पका : अधपका ______  ______

Solution: 

अध - पका : अधपका अधबना अधजला


साहित्य संबंधी सामान्य ज्ञान | Q 1.09 | Page 63

निम्न उपसर्गों से प्रत्येक केतीन शब्द लिखिए :

भर - पूर : भरपूर ______  ______

Solution: 

भर - पूर : भरपूर भरपेट भरसक


साहित्य संबंधी सामान्य ज्ञान | Q 1.1 | Page 63

निम्न उपसर्गों से प्रत्येक केतीन शब्द लिखिए :

कु - पात्र : कुपात ______  ______

Solution: 

कु - पात्र : अपात्र  कर संगत  कुप्रथा


साहित्य संबंधी सामान्य ज्ञान | Q 2.01 | Page 63

निम्न प्रत्ययों से प्रत्येक केतीन शब्द लिखिए :

आ - प्यास : प्यासा ______ ______

Solution: 

आ - प्यास : प्यासा  प्यारा  दुलारा


साहित्य संबंधी सामान्य ज्ञान | Q 2.02 | Page 63

निम्न प्रत्ययों से प्रत्येक केतीन शब्द लिखिए :

इया - पूरब : पुरबिया ______ ______

Solution: 

इया - पूरब : पुरबिया  घटिया  उड़िया


साहित्य संबंधी सामान्य ज्ञान | Q 2.03 | Page 63

निम्न प्रत्ययों से प्रत्येक केतीन शब्द लिखिए :

ई - ज्ञान : ज्ञानी ______ ______

Solution: 

ई - ज्ञान : ज्ञानी  विदेशी  गुजराती


साहित्य संबंधी सामान्य ज्ञान | Q 2.04 | Page 63

निम्न प्रत्ययों से प्रत्येक केतीन शब्द लिखिए :

ईय - भारत : भारतीय ______ ______

Solution: 

ईय - भारत : भारतीय  शासकीय  राजकीय


साहित्य संबंधी सामान्य ज्ञान | Q 2.05 | Page 63

निम्न प्रत्ययों से प्रत्येक केतीन शब्द लिखिए :

ईला - भड़क : भड़कीला ______ ______

Solution: 

ईला - भड़क : भड़कीला  रसीला  रंगीला


साहित्य संबंधी सामान्य ज्ञान | Q 2.06 | Page 63

निम्न प्रत्ययों से प्रत्येक केतीन शब्द लिखिए :

ऊ - ढाल : ढालू ______ ______

Solution: 

ऊ - ढाल : ढालू  चालू  रट्टू


साहित्य संबंधी सामान्य ज्ञान | Q 2.07 | Page 63

निम्न प्रत्ययों से प्रत्येक केतीन शब्द लिखिए :

मय - जल : जलमय ______ ______

Solution: 

मय - जल : जलमय  ज्ञानमय  संगीतमय


साहित्य संबंधी सामान्य ज्ञान | Q 2.08 | Page 63

निम्न प्रत्ययों से प्रत्येक केतीन शब्द लिखिए :

वान - गुण : गुणवान ______ ______

Solution: 

वान - गुण : गुणवान  भाग्यवान  दयावान


साहित्य संबंधी सामान्य ज्ञान | Q 2.09 | Page 63

निम्न प्रत्ययों से प्रत्येक केतीन शब्द लिखिए :

वर - नाम : नामवर ______ ______

Solution: 

वर - नाम : नामवर  ताकतवर  प्रियवर


साहित्य संबंधी सामान्य ज्ञान | Q 2.1 | Page 63

निम्न प्रत्ययों से प्रत्येक केतीन शब्द लिखिए :

दार - धार : धारदार ______ ______

Solution: 

दार - धार : धारदार  जमींदार  दुकानदार


Balbharati Solutions for Hindi - Yuvakbharati 12th Standard HSC Maharashtra State Board Chapterwise List.

The answers for the Balbharati books are the best study material for students. These Balbharati Solutions for Hindi - Yuvakbharati 12th Standard HSC Maharashtra State Board will help students understand the concepts better.

Chapter 1: नवनिर्माण

Chapter 2: निराला भाई

Chapter 3: सच हम नहीं; सच तुम नहीं

Chapter 4: आदर्श बदला

Chapter 5.1: गुरुबानी

Chapter 5.2: वृंद के दोहे

Chapter 6: पाप के चार हथि यार

Chapter 7: पेड़ होने का अर्थ

Chapter 8: सुनो किशोरी

Chapter 9: चुनिंदा शेर

Chapter 10: ओजोन विघटन का संकट

Chapter 11: कोखजाया

Chapter 12: सुनु रे सखिया, कजरी

Chapter 13: कनुप्रिया

Chapter 14: पल्लवन

Chapter 15: फीचर लेखन

Chapter 16: मैं उद्घोषक

Chapter 17: ब्लॉग लेखन

Chapter 18: प्रकाश उत्पन्न करने वाले जीव